एसबीआई योनो के तहत शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले निवेशकों के लिए बेहतर ऑफर मिल रहा है. (Image- SBI)

Demat Account क्या है ? इसका उपयोग जाने.

शेयर बाजार में जुड़ने से पहेल कोई प्रकार की जानकारी रखने होते है. जिसमे से एक Demat Account भी है.

यह शेयर मार्केट से जुड़े नाम है. जिसके बारे में आप इसमें जानेंगे.

बहुत से लोग इस बात से अनजान हैं कि डीमैट अकाउंट क्या है , इसका उपयोग क्या है , डीमैट खाता खोलने के लाभ क्या है इत्यादी.

शेयर मार्केट से जुड़ने से पहले Demat Account को खोलना जरुरी होता है.

तो अब इसके बारे में निचे में जानेंगे.

What Is Demat Account What Is The Use Of It, Demat Account Opening Online, Best Demat Account, Zerodha Demat Account, Demat Account Charges, dtechin

Demat Account क्या है ?

Demat का पूरा नाम Dematerialized होता है.

Demat Account एक ऐसा Account है जिसमे अपना ख़रीदा गया शेयर इलेक्ट्रॉनिक रूप में Store रहता ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें है.

अगर आप शेयर बाजार में निवेश करना चाहते है , तो सबसे पहले अपना Demat Account खुलवाना पड़ेगा.

भारत में 1996 के Depository Act के बाद से डीमैट खाते की शुरुआत हुई थी

इसके पहले प्रत्येक शेयर के लिए एक सर्टिफिकेट होता था.

सर्टिफिकेट को संभाल कर ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें रखना बहुत ही मुश्किल होता था.

गुम हो जाने का तथा चोरी हो जाने का भी खतरा रहता था.

इसी समस्याओ का समाधान के लिए Demat Account आया.

जहाँ पर हमारा शेयर पूर्ण सुरक्षित इलेक्ट्रॉनिक रूप में रहता है.

18 वर्ष से ऊपर का कोई भी व्यक्ति जिसके पास जरूरी कागजात है. वो Demat खाता खुलवा सकता है.

इसके लिए Pan Card

डीमैट खाता खोलने के लाभ

सभी अलग-अलग निवेश (ऋण या इक्विटी) को रखने के लिए एक स्थान है.

सभी प्रतिभूतियां इलेक्ट्रॉनिक रूप में होने से चोरी , क्षति या धोखाधड़ी का कोई खतरा नहीं है.

डीमैट खाते पर स्वचालित अपडेट मिलते हैं.

ट्रांसफर करने की प्रक्रिया बहुत आसान और जल्दी है

आपने इसमें जाना की डीमैट अकाउंट क्या है , इसका उपयोग क्या है , डीमैट खाता खोलने के लाभ क्या है इत्यादी.

हमें उम्मीद है की Demat Account के बारे में इसमें दिए गए जानकारी आप समझ गए होंगे.

अगर इस जानकारी से आपको कुछ सिखने को मिला हो तो कृपया इसे जरुर शेयर करे.

Demat Account Kya Hai, What Is Demat Account What Is The Use Of It, Demat Account Opening Online, Demat Account Login, Best Demat Account, Zerodha Demat Account, Demat Account Charges, Demat Account Sbi, What Is Demat Account In Hindi, What Is Demat Account ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें In Upstox.

डीमैट खाता शुल्क , डिमैट अकाउंट क्या होता है , डीमैट अकाउंट के नुकसान , डीमैट अकाउंट कैसे खोलें.

SBI YONO पर खोलिये डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट; कम होगा खर्च, सालाना AMC पर भी मिलेगी छूट

SBI Yono Trading Offer: शेयर ट्रे़डिंग के लिए आपके पास Demat Account और Trading Account होना चाहिए. SBI Yono के जरिए इन खातों को खोल रहे हैं तो आपके 1350 रुपये बचेंगे.

SBI YONO पर खोलिये डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट; कम होगा खर्च, सालाना AMC पर भी मिलेगी छूट

एसबीआई योनो के तहत शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले निवेशकों के लिए बेहतर ऑफर मिल रहा है. (Image- SBI)

SBI Yono Trading Offer: स्टॉक ट्रे़डिंग के लिए आपके पास Demat Account और Trading Account होना चाहिए. इन दोनों खातों पर शुल्क भी देय होता है लेकिन अगर SBI Yono के जरिए इन खातों को खोल रहे हैं तो आपके 1350 रुपये बचेंगे. अगर आप शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव से नहीं घबराते हैं और अपनी पूंजी पर बेहतर रिटर्न निवेश करना चाहते हैं तो इक्विटी में निवेश बेहतर विकल्प हैं. इसके लिए आपको कुछ जरूरी औपचारिकताएं पूरी करनी होती हैं जिसके बिना आप ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं और शेयर्स को होल्ड नहीं कर सकते हैं.
बैंक द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक एसबीआई योनो के जरिए इन दोनों खातों को खोलने पर 1350 रुपये की बचत होगी. इसमें 850 रुपये खाता खोलने का शुल्क नहीं लगेगा. इसके अलावा सालाना डीपी एएमसी (एकाउंट मेंटेनेंस चार्ज) के तहत 500 रुपये का चार्ज ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें पहले साल नहीं चुकाना होगा.

इस तरह खोलें डीमैट और ट्रेडिंग खाता

  • योनो की वेबसाइट पर लॉग इन करें.
  • Menu पर क्लिक करें.
  • Financial Produts के तहत Investments में Securities पर क्लिक करें.
  • Link / Open a New Demat & Trading Account पर क्लिक करें.
  • Open Demat & Trading Account पर क्लिक करें. इसके बाद दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर अपना डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोल सकते हैं.

Yono App के जरिए ऐसे खोलें खाता

  • ऐप में लॉग इन करें.
  • मेन्यू के लिए ऊपर बायीं तरफ बने सिंबल पर क्लिक करें
  • एक डॉप मेन्यू खुलेगा. उसमें इंवेस्ट पर क्लिक करें.
  • अगले मेन्यू में ‘ओपन डीमैट एंड ट्रेडिंग अकाउंट’ पर क्लिक करें.
  • Through SBICap Securities के तहत दिए गए विकल्प ‘ओपन डीमैट एंड ट्रेडिंग अकाउंट’ पर क्लिक करें.
  • इसके बाद दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें.

क्या होता है डीमैट और ट्रेडिंग खाता

आपने जिन शेयरों या सिक्योरिटीज (बांड्स, ईटीएफ, म्यूचुअल फंड यूनिट्स इत्यादि) में निवेश किया है, उन्हें डिजिटल मोड में डीमैट खाते में रखा जाता है. इसके विपरीत ट्रेडिंग अकाउंट के जरिए ही डीमैट खाते में रखे सिक्योरिटीज की बिक्री की जा सकती है. ट्रेडिंग खाते के जरिए ही स्टॉक एक्सचेंज पर आप शेयरों की खरीद-बिक्री के लिए पोजिशंस ले सकते हैं. ब्रोकरेज फर्म अकाउंट ओपनिंग्स के लिए शुल्क लेती हैं.

Car Insurance: फेस्टिव सीजन में खरीदनी है नई कार, इंश्योरेंस में बरतें ये सावधानियां, हजारों रुपये की होगी बचत

Mutual Funds SIP: एसआईपी में पहली बार करने जा रहे हैं निवेश? बेहतर रिटर्न के लिए इन 5 बातों का जरूर रखें ध्यान

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

लॉन्ग टर्म में पैसा बनाने के लिए ग्रोथ और वैल्यू इनवेस्टिंग में आपके लिए कौन है बेहतर

5paisa Investor Tips अगर आप भी शेयरों में निवेश करना चाहते हैं लेकिन इस बात का अंदाजा नहीं है कि कहां और किस शेयर में निवेश करना सही रहेगा तो यह खबर आपके लिए है। आज हम आपको बताएंगे कि शेयर खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। आमतौर पर कम समय में सभी लोग अधिक से अधिक पैसा बनाना चाहते हैं। इसके लिए अधिकतर युवा अक्सर स्टॉक मार्केट की ओर रुख करते हैं, क्योंकि आज के दौर में शेयर बाजार के एक आदर्श बनकर उभरा हैं। लेकिन युवाओं को ये पता नहीं होता है कि सही शेयरों का चुनाव कैसे करें? अगर स्टॉक मार्केट में शेयर चुनने का हुनर पता चल जाता है तो इसमें निवेश करना बहुत ही आसान हो सकता है। हालांकि, स्टॉक मार्केट में हमेशा उतार-चढ़ाव बना रहता है।

5paisa के साथ शुरू करें निवेश का सफर, विजिट करें- https://bit.ly/3n7jRhX

वहीं, अधिकतर युवा स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कर पैसा बनाने के लिए अपने ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें अलग-अलग तरीके का इस्तेमाल करते हैं, जिसके लिए इन्वेस्टर वैल्यू इनवेस्टिंग और ग्रोथ इनवेस्टिंग की ओर अपना रुख करते हैं। इन्वेस्टमेंट के ये दोनों तरीके बेहद लोकप्रिय हैं। इनमें से हर एक की अपनी-अपनी खूबियां होती हैं। हालांकि, तमाम युवा इन दोनों के बीच अंतर को समझ नहीं पाते हैं।

दरअसल, ग्रोथ इनवेस्टिंग और वैल्यू इनवेस्टिंग निवेश के दो अलग-अलग तरीके हैं। निवेशक अपनी कैपिटल को बढ़ाने के लिए दोनों तरीक का इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि इन्वेस्टर के बीच दोनों ही स्टाइल काफी लोकप्रिय हैं। दोनों एप्रोच में भरोसा रखने वाले निवेशकों और विश्लेषकों का अलग-अलग कैटेगरी है। वहीं, ग्रोथ और वैल्यू इनवेस्टिंग साइकिल में चलते हैं।

बता दें कि, ग्रोथ इनवेस्टिंग में उन कंपनियों की तलाश की जाती है जिनमें आगे चलकर मार्केट के मुकाबले ज्यादा से ज्यादा बढ़ने की उम्मीद होती हैं। वहीं, वैल्यू इनवेस्टिंग में उन कंपनियों को पहचाना की जाता है जिनका शेयर प्राइस अपनी असली कैपेसिटी से कम होता है।आमतौर पर, ग्रोथ आधारित कंपनियां अपनी शेयर या बिजनेस बढ़ाने के लिए अपनी कमाई को दोबारा निवेश करती हैं। इस तरीके से ये डिविडेंड नहीं देती हैं। वहीं, वैल्‍यू स्‍टोक्‍स में काफी ज्यादा डिविडेंड देती हैं। ग्रोथ स्‍टॉक्‍स में रिटर्न ऑफर करने की कैपेसिटी बहुत ज्यादा होती है। यही वजह है कि वैल्‍यू स्‍टॉक्‍स की अपेक्षा इनमें रिस्क और अस्थिरता अधिक होती है। साथ ही, वैल्‍यू स्‍टॉक्‍स के मुकाबले ग्रोथ स्‍टॉक्‍स का पीई रेशियो काफी अधिक होता है।

अगर आप भी किसी कंपनी में निवेश करना चाहते हैं तो आज ही 5paisa.com पर जाएं और अपने निवेश के सफर को और भी बेहतर बनाएं। साथ ही DJ2100 - Coupon Code के साथ बनाइये अपना Demat Account 5paisa.com पर और पाएं ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें ऑफर्स का लाभ।

Groww App में अकाउंट बनाएं।

groww app में अकाउंट खोले

क्या आप भी ग्रो ऐप में अकाउंट खोलना चाहते है और जानना चाहते है की Groww App में अकाउंट कैसे खोले? तो आप बिल्कुल ठीक जगह पर आए है। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप अच्छी तरह समझ जाएंगे ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें की कैसे Groww App में अकाउंट खोले।

इस आर्टिकल में मैं आपको स्टेप बाय स्टेप बताऊंगा की कैसे Groww App में अकाउंट खोले। अगर आप भी इस प्रक्रिया को ठीक से जानना चाहते है तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ना है क्योंकि एक छोटी सी गलती आपको ग्रो ऐप में अकाउंट खोलने में दिक्कत में डाल सकती है।

अगर आप जानना चाहते है की ग्रो ऐप क्या है और कैसे काम करता है तो आप हमारा पिछला आर्टिकल पढ़ सकते है। उस आर्टिकल में हमने ग्रो ऐप के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है जिसे पढ़ कर आप ग्रो ऐप के बारे में और अच्छी तरह समझ जाएंगे।

बाजार की दिशा तय कर रहे घरेलू निवेशक, डीमैट खातों की संख्या 10 करोड़ के पार

देश में कोविड-19 से ठीक पहले मार्च 2020 में भारत का डीमैट अकाउंट का आंकड़ा 4.09 करोड़ था. यानी ढाई साल में लगभग 6 करोड़ लोगों ने डीमैट एकाउंट खुलवाए

बाजार की दिशा तय कर रहे घरेलू निवेशक, डीमैट खातों की संख्या 10 करोड़ के पार

निवेश और निवेशक. ज्यादातर लोग इन दो शब्दों को कहीं न कहीं संपन्न यानी खास लोगों से जोड़कर देखते हैं. खासकर शेयर मार्केट में मामले में तो लोग ऐसा ही समझते हैं. लेकिन क्या जब हम कहें ऐसा बिलकुल नहीं रहा है. बल्कि ये ट्रेंड तेजी से बदल रहा है. अब आम निवेशकों की भागीदारी भी तेजी से बढ़ रही है. असम, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, नागालैंड, ओडीशा जैसे राज्यों से आने वाले आम निवेशकों की भागीदारी जबरदस्त इजाफा है. इसके संकेत डीमैट की बढ़ती संख्या से मिल रहे हैं, जो अब एक नई ऊंचाई पर पहुंच चुके हैं.

देश में अब 10 करोड़ डीमैट खाते

National Securities Depository Limited (NDSL) and Central Depository Services (CDSL) की रिपोर्ट के मुताबिक देश में पहली बार डीमैट खातों की संख्या 10 करोड़ के पार पहुंच गई है. देश में कोविड-19 से ठीक पहले मार्च 2020 में भारत ग्रो के साथ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें का डीमैट अकाउंट का आंकड़ा 4.09 करोड़ था. यानी ढाई साल में लगभग 6 करोड़ लोगों ने डीमैट एकाउंट खुलवाए. महामारी के दौरान ऑनलाइन काम का चलन बढ़ने, शेयर मार्केट में तेज उछाल, वर्क फ्रॉम होम, अकाउंट खोलने में आसानी जैसे कारणों ने आम निवेशकों को आकर्षित किया है. हाल के दिनों में बाजार पर नजर डालें तो पिछले सालों से अलग इस बार कई सत्रों में घरेलू निवेशकों का रूख बाजार की दिशा तय करते हुए दिख रहे हैं.

CDSL के MD & CEO के Nehal Vora ने इस उपलब्धि को माइलस्टोन बताया है. जबकि NSDL के executive vice-president Prashant Vagal का कहना है कि पिछले दो वर्षों में डीमैट खातों में काफी इजाफा देखा गया है. एनएसडीएल की कस्टडी वैल्यू अप्रैल 2020 में 174 लाख करोड़ रुपए से बढ़कर अगस्त 2022 में 320 लाख करोड़ रुपये हो गई. यह रिटेल और institutional investors की भागीदारी को दिखाता है. नंबर ऑफ अकाउंट की बात करें तो लिस्टेड फर्म CDSL का मार्केट शेयर ज्यादा है. लेकिन assets under custody यानी AUC की बात आती है तो NDSL बड़ा हो जाता है. अगस्त मे CDSLने 38.5 ट्रिलियन रुपये के AUC के साथ 71.6 मिलियन डीमैट खाते ऑपरेट किए. दूसरी ओर NDSL के पास 320 ट्रिलियन रुपये के एयूसी के साथ 28.9 मिलियन खाते थे.

आने वाले समय में बढ़ेगी एक्टिविटी

मार्केट प्लेयर्स के मुताबिक डीमैट अकाउंट टैली में बढोत्तरी का बाजार की कंडीशन से बड़ा संबंध है. मार्केट में तेजी से बहुत सारे नए निवेशक बाजार में आएंगे. यही कारण है कि पहली तिमाही के दौरान नए खाते खोलने में थोड़ी गिरावट आई थी, लेकिन अब चीजें फिर से दिख रही हैं. फाइलिंग की संख्या को देखते हुए एक मजबूत आईपीओ पाइपलाइन भी है और इससे भी डीमैट काउंट बढ़ाने में मदद मिलेगी. डायरेक्ट निवेश के अलावा domestic retail investors म्यूचुअल फंड, बीमा और पेंशन फंड रूट के माध्यम से इक्विटी बाजारों में आते हैं. बता दें कि बाजार में तेज गिरावट के बाद जून में नए डीमैट अकाउंट 16 महीने के निचले स्तर 1.8 मिलियन तक गिर गए. लेकिन जून में बाजार की वापसी से निवेशकों का भरोसा एक बार फिर सुधरा है.

ये भी पढ़ें

क्या मोदी सरकार युवाओं को हर महीने देगी तीन हजार रुपये, जानें इस वायरल मैसेज की पूरी सच्चाई

क्या मोदी सरकार युवाओं को हर महीने देगी तीन हजार रुपये, जानें इस वायरल मैसेज की पूरी सच्चाई

दूसरी तिमाही में चालू खाते का घाटा बढ़ेगा, GDP के पांच फीसदी पर पहुंचने का अनुमान: रिपोर्ट

दूसरी तिमाही में चालू खाते का घाटा बढ़ेगा, GDP के पांच फीसदी पर पहुंचने का अनुमान: रिपोर्ट

केनरा बैंक ने बढ़ाया सर्विस चार्ज, 20 सितंबर से लागू होंगे नए रेट

केनरा बैंक ने बढ़ाया सर्विस चार्ज, 20 सितंबर से लागू होंगे नए रेट

पेंशन के लिए LIC ने लॉन्च किया ये नया प्लान, जानिए कौन-कैसे उठा सकता है फायदा

पेंशन के लिए LIC ने लॉन्च किया ये नया प्लान, जानिए कौन-कैसे उठा सकता है फायदा

छोटे शहरों के रास्ते से आई तेजी

YES Securities के MD & CEO E Prasanth Prabhakaran का कहना है कि मार्केट प्लेयर्स का मानना है कि अभी भी एक लंबा रास्ता तय करना है क्योंकि ब्रोकरेज नए शहरों में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे हैं. पिछले दो वर्षों में डेवलपमेंट का एक बड़ा हिस्सा टियर -2 और टियर -3 शहरों से आया है. जब एक बार निवेश हर किसी के लाइफ का पार्ट बन जाता है तो इकनॉमी हाई ग्रोथ पर लौट आती है. बता दें कि डीमैट अकाउंट एक बैंक अकाउंट की तरह है, जिसमें आप शेयर सर्टिफिकेट और अन्य सिक्योरिटीज को इलेक्ट्रॉनिक फार्म में रख सकते हैं. इसमें शेयर, बॉन्ड्स, गवर्नमेंट सिक्योरिटीज , म्यूचुअल फंड, इंश्योरेंस और ईटीएफ जैसे इन्वेस्टमेंट को रखने की प्रक्रिया आसान हो जाती है.

रेटिंग: 4.78
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 816