जीरोधा काईट मोबाइल ऐप को बहुत अच्छी तरह से डिजाइन किया गया है और यह आपको वेबसाइट पर उपलब्ध सभी ट्रेडिंग टूल्स में प्रवेश प्रदान करता है।

एंजेल ब्रोकिंग

डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट के लिए पात्रता मानदंड

शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट आवश्यक हैं. डीमैट अकाउंट डिजिटल मोड में शेयर्स को स्टोर करता है और फिज़िकल शेयर सर्टिफिकेट से जुड़े जोखिमों जैसे चोरी, फर्जी कागज़ बनना आदि से होने वाले नुकसान को दूर करता है. बजाज फाइनेंशियल सिक्योरिटीज़ अकाउंट खोलने के लिए 100% डिजिटल प्रोसेस प्रदान करता है, ताकि आप डॉक्यूमेंट्स की सॉफ्ट आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता कॉपी अपलोड कर सकें और उन्हें ऑनलाइन सबमिट कर सकें.

हां, आप डीमैट अकाउंट में अपना एड्रेस बदल सकते हैं. इसके लिए, आपको अकाउंट संशोधन फॉर्म भरना होगा, इस पर हस्ताक्षर करने होंगे और इसके साथ प्रमाण के रूप में आवश्यक डॉक्यूमेंट, अपने डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (डीपी) को सबमिट करना होगा. बदलाव करने से पहले डीपी अनुरोध को सत्यापित करेंगे.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है. हालांकि, इसे डीमैट अकाउंट खोलते समय एड्रेस प्रूफ के रूप में सबमिट किया जा सकता है. डीमैट अकाउंट खोलने के लिए एड्रेस प्रूफ के रूप में वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, अधिकतम 3 महीने पुराने यूटिलिटी बिल, और पिछले 3 महीनों के बैंक स्टेटमेंट भी सबमिट किए जा सकते हैं.

After-Hours trading क्या है?

After-Hours trading नियमित Trading hours के बाहर के समय को संदर्भित करता है जब कोई निवेशक प्रतिभूतियों (Stock) को खरीद और बेच सकता है। संयुक्त राज्य अमेरिका में मुख्य एक्सचेंज, NASDAQ और NYSE, मानक ट्रेडिंग सत्र आयोजित करते हैं जो सुबह 9:30 बजे शुरू होते हैं और शाम 4:00 बजे समाप्त होते हैं।

Regular आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता trading की समाप्ति के बाद, एक्सचेंज शाम 4:00 बजे से शाम 6:00 बजे के बीच के घंटों के सत्र में व्यापार जारी रखने की अनुमति देते हैं। ये सत्र कभी-कभी रात 8:00 बजे तक बढ़ सकते हैं। ट्रेडिंग इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन नेटवर्क्स (ईसीएन) के माध्यम से आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता की जाती है, जो स्टॉक के खरीदारों और विक्रेताओं को बिना किसी भौतिक रूप से ट्रेडिंग फ्लोर आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता पर व्यापार करने में सक्षम बनाता है।

आफ्टर आवर्स ट्रेडिंग क्या है? [What is After-Hours trading? In Hindi]

घंटों के बाद व्यापार क्यों? [Why trade After-hours?]

पूरे यू.एस. शेयर बाजार के साथ दिन में साढ़े छह घंटे, सप्ताह में पांच दिन व्यापार करने के लिए तैयार होने के साथ, किसी को आश्चर्य हो सकता है कि निवेशक बाजार के व्यापार के लिए बंद होने तक इंतजार क्यों करेंगे। पता चला, आफ्टर-आवर्स ट्रेडिंग गेम में शामिल होने के फायदे और जोखिम हैं। Agency Cost क्या हैं?

कई कंपनियां ट्रेडिंग बंद होने के बाद अपनी तिमाही आय रिपोर्ट जारी करती हैं। यदि कोई हाई-प्रोफाइल कंपनी बकाया तिमाही परिणामों का खुलासा आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता करती है, तो कई निवेशक अगले दिन तक प्रतीक्षा करने के बजाय अच्छे परिणामों का लाभ उठाने के लिए बाद के घंटों के कारोबार में स्टॉक खरीदने के लिए दौड़ सकते हैं।

वैकल्पिक आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता रूप से, एक कंपनी भयानक परिणामों की रिपोर्ट कर सकती है, और नकारात्मक रिपोर्ट के बाद नुकसान से बचने के लिए स्टॉक के मालिकों के पास बेचने के लिए तैयार ऑर्डर हो सकता है। कुछ व्यापारी कम कीमत पर शेयरों की कोशिश करने और कब्जा करने के लिए बाद के घंटों के कारोबार में एक खरीद आदेश भी दे सकते हैं।

1 दिन में मिल सकता है बंपर रिटर्न, जानें बाजार में इंट्राडे कमाई के फंडे

1 दिन में मिल सकता है बंपर रिटर्न, जानें बाजार में इंट्राडे कमाई के फंडे

Intraday Trading: शेयर बाजार में 1 दिन की ट्रेडिंग में भी हो सकती है बंपर कमाई

Intraday Trading: शेयर बाजार की बात आती है तो अमूमन यही खयाल आता है कि बाजार में पैसा लगाकर लंबा इंतजार करना होगा. तभी बेहतर मुनाफा हो सकता है. लेकिन ऐसा नहीं है. बाजार निवेशकों को 1 दिन में भी बंपर मुनाफा कमाने का मौका देता है. बाजार में एक ही ट्रेडिंग डे पर शेयर खरीदने और बेचने को इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते हैं. इसमें सुबह पैसा लगाकर दोपहर तक अच्छी कमाई की जा सकती है. यहां शेयर खरीदा तो जाता है लेकिन उसका मकसद निवेश करना नहीं, बल्कि एक दिन में उसमें होने वाली बढ़त से मुनाफा कमाना होता है. ध्यान रहे कि इसमें जरूरी नहीं है कि आपको फायदा ही हो.

कैसे कर सकते हैं Intraday ट्रेड

अगर शेयर बाजार में डे-ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो इसके लिए पहले आपको डीमैट अकाउंट और एक ट्रेडिंग अकाउंट खुलवाना होता है. इस अकाउंट में आप या तो ब्रोकर को फोन पर ऑर्डर देकर शेयर का कारोबार कर सकते हैं या ऑनलाइन भी खुद से ट्रेडिंग कर सकते हैं.

#सिर्फ लिक्विड स्टॉक में ट्रेडिंग करें, 2 या 3 ऐसे स्टॉक चुन सकते हैं.
#वोलेटाइल स्टॉक से दूर रहें
#अच्छे कोरेलेशन वाले शेयरों में करें खरीददारी
#शेयर का चुनाव करने के पहले बाजार का ट्रेंड जरूर देख लें, आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता मार्केट के ट्रेंड के खिलाफ न जाएं.
#रिसर्च के बाद जिन शेयरों को लेकर कांफिडेंट हैं, उनमें निवेश करें
#शेयर खरीदने के पहले यह तय करें कि किस भाव में खरीदना है और उसका लक्ष्य कितना है. स्टॉप लॉस जरूर लगाएं.
#जैसे ही लक्ष्य पूरा हो, प्रॉफिट बुकिंग करें.

कितने पैसों की पड़ती है जरूरत

इंट्रा डे में आप किसी शेयर में कितनी भी रकम लगा सकते हें. शेयर बाजार में नियम है कि जिस दिन शेयर खरीदा जाता है, उस दिन पूरा पैसा नहीं देना होता है. नियम के तहत जिस दिन शेयर खरीदा जाता है, उसके 2 ट्रेडिंग दिनों के बाद पूरा भुगतान करना होता है. फिर भी आपको शेयर के भाव का शुरू में 30 फीसदी रकम निवेश करना होता है.

इसका उदाहरण 6 मार्च 2019 यानी बुधवार को शेयर बाजार में होने वाली ट्रेडिंग से ले सकते हैं. दीवान हाउसिंग फाइनेेंस कॉरपोरेशन (DHFL) के शेयरों में निवेश करने वालों के लिए बुधवार का दिन बेहतर साबित हुआ. बुधवार को पॉजिटिव सेंटीमेंट जुड़ने के बाद कंपनी के शेयर में 20 फीसदी तक तेजी आई है.

DHFL का शेयर मंगलवार को 134 रुपये के भाव पर बंद हुआ था. वहीं बुधवार को यह 147.40 के भाव पर खुला और कुछ देर में ही 160 रुपये के भाव पर पहुंच गया. यानी प्रति शेयर 26 रुपये का फायदा हुआ. इस लिहाज से अगर किसी ने 50 हजार रुपये लगाए होंगे तो उसकी रकम बढ़कर 60 हजार रुपये हो गई. कुछ घंटों में ही 10 हजार रुपये का फायदा.

जानकारों की राय

एक्सपर्ट के अनुसार हालांकि शेयर बाजार का अधिकांश कारोबार डे ट्रेडिंग का ही होता है, लेकिन फिर भी सावधानी के साथ कारोबार करना चाहिए. शेयर का चुनाव करने के पहले बाजार का ट्रेंड जरूर देखना चाहिए. मार्केट के ट्रेंड के खिलाफ न जाएं. शेयर खरीदने के पहले यह तय करें कि किस भाव में खरीदना है और उसका लक्ष्य कितना है. स्टॉप लॉस जरूर लगाएं.

(Discliamer: हम यहां इंट्राडे कारोबार के बारे में जानकारी दे रहे हैं, न कि निवेश की सलाह. शेयर बाजार के अपने जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.<

फिशिंग स्कैम का ख़तरा – यह क्या है और इससे हम कैसे बचें?

मैंने हाल ही में शेयर बाजार के घोटालों पर यह पोस्ट लिखा था, जिसके बारे में सभी को पता होना चाहिए। यहाँ हमने बताया है कि कैसे धोखेबाज़ सलाहकार आपको इल्लिक्विड ऑप्शन कॉन्ट्रैक्ट्स (वह ऑप्शनस जिनमे कम ट्रेडिंग होती है) में पोज़िशन लेने के लिए कहते हैं और जानबूझकर नुकसान पैदा करते हैं, और अपने अकाउंट में चोरी से यह मुनाफा ले लेते हैं। इन में से कुछ सलाहकार, निवेशकों को ख़राब कंपनी के शेयर दिलाकर उस शेयर की कीमत को ऊंचा कर देते हैं और खुद इन् शेयर को बेच देते है। ऐसे निवेशक इन् शेयर में फस जाते हैं और बाहर नहीं निकल सकते (इसे “पंप और डंप स्कीम” कहा जाता है)।

Kite (काइट) पर इन घोटालों को रोकने के लिए हमने नीचे लिखे उपाय लागू किये है –

फिशिंग स्कैम

जालसाज फ़िशिंग (नकली) वेबसाइट बनाते हैं जो बड़े शेयर ब्रोकर के बनाये गए ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म की तरह पेश आते हैं। इन् वेबसाइट का लिंक निवेशकों के पास SMS, ई-मेल या सोशल मीडिया के माध्यम से भेजा जाता है।

निवेशक इस लिंक से नकली वेबसाइट पर पहुंच जाते हैं जो उनके आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता शेयर ब्रोकर के वेबसाइट के जैसा दिखता है। यहाँ वह अपने लॉगिन की जानकारी (नाम, पासवर्ड, पिन, और अति अदि) दर्ज कर देते हैं। यह जानकारी धोखेबाजों द्वारा कब्जा कर ली जाती है, जिसे वे निवेशक के ट्रेडिंग अकाउंट में लॉगिन करने के लिए उपयोग करते हैं। और फिर वह निवेशक के अकाउंट में स्कैम वाले बेकार कंपनी के शेयर खरीद लेते हैं या इल्लिक्विड आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता ऑप्शन कॉन्ट्रैक्ट की लेन-देन से निवेशक के अकाउंट से पैसे चोरी कर लेते हैं।

अगर आपके अकॉउंट में आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता पैसे नहीं हैं तो यह धोकेबाज़ आपकी मौजूदा होल्डिंग्स के शेयर बेच कर उन् पैसों से फ्रॉड ट्रेड करते हैं। इन् ट्रेड्स को देखिये जो हमारे एक ग्राहक के खाते में हाल ही में किये गए थे (हम अपने ग्राहक की सहमति के साथ आपको यह पेश कर रहे हैं)। इस निवेशक की लॉगिन जानकारी धोके से गलत वेबसाइट में लगभग 9 बजे ले आवर्स ट्रेडिंग के लिए ऑर्डर कैसे दे सकता ली गयी थी और 10 बजे तक जालसाज़ ट्रेडिंग अकाउंट में लॉगिन कर चूका था। उसने 70,000 रुपये के शेयर बेच दिए और कुछ मिनट में 60,000 रूपये का नुक्सान भी कर दिया।

नुकसान

  • वेब आधारित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म में सुधार की आवश्यकता है।
  • कई बार ग्राहक सेवा एजेंट्स और रिलेशनशिप मैनेजर व्यस्त समय के दौरान ग्राहकों की समस्याओं का समाधान प्रदान करने के लिए उपलब्ध नहीं होते हैं।

बिना हिचकिचाहट यह भारत का उन्नत ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है। जीरोधा अपनी आधुनिक सेवाओं और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के कारण भारत की डिस्काउंट श्रेणी का श्रेष्ठ शेयर मार्केट ब्रोकर बन चुका है। अधिकांश रिटेल इन्वेस्टर्स तथा संस्थाएं जीरोधा को अपने डिफॉल्ट ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के रूप में पसंद करते हैं।

जीरोधा अकाउंट को ओपन करने की क्रमबद्ध प्रक्रिया की जानकारी के लिए इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़िए।

जीरोधा Zerodha

रेटिंग: 4.25
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 465