Image Source:Goodreturns
4. फालो पब्लिक ऑफर: जब कोई भी नयी कंपनी अपनी अधिकृत पूँजी की उगाही शेयरों के निर्गमन के द्वारा प्राथमिक बाजार से करती है तो इसे FPO कहते हैं l
5. ब्लू चिप कंपनी (Blue Chip Company): यह एक ऐसी कंपनी होती है जिसके शेयरों को खरीदना बेहद सुरक्षित माना जाता है। इस कंपनी के शेयरों को खरीदने वाला निवेशक जोखिम रहित लाभ प्राप्त करता है l

Image Source:SlideShare
6. इनसाइडर ट्रेडिंग (Insider Trading): इसका मतलब एक ऐसी सूचना से होता है जो कि एक कंपनी की कार्य प्रणाली से जुडी होती है जिसमे कम्पनी की भावी योजनाओं में बारे में जानकारी होती हैl यदि यह सूचना कंपनी के किसी उच्च अधिकारी (कंपनी के निदेशकों और उच्च स्तरीय अधिकारियों) के माध्यम से सार्वजनिक हो जाती है तो उस कंपनी के शेयरों के दाम अप्रत्याशित रूप से ऊपर या नीचे होते हैं l

Image Source:Insider Monkey
7. वाणिज्यिक पत्र (Commercial Paper): यह एक असुरक्षित वचन-पत्र (Promissory Note) होता है जो कि एक वित्तीय संस्थान द्वारा जारी किया जाता है lइसको जारी करने का मुख्य उद्येश्य अल्पकालीन वित्तीय जरूरतों को पूरा करना होता है l
8. बोनस इश्यू (Bonus Issue):इस प्रकार के शेयर बोनस, उन शेयर धारकों को फ्री में उस अनुपात में दिए जाते हैं जिनके उनके पास उस कंपनी के शेयर पहले से ही होते हैं l ऐसे शेयरों को लाभांश शेयर भी कहते हैं l

ponzy-schemes

शेयर मार्केट क्या है सीखें और पैसे कमाए – What Is Share Market In Hindi

Share Market In Hindi: बिना निवेश किए पैसे कमाना थोड़ा मुश्किल है पर शेयर बाजार में निवेश कर पैसे कमाना आसान है.

आज हर कोई व्यक्ति एक खुशहाल जीवन जीने के लिए बहुत पैसे कमाना चाहता है जिसके लिए वह नौकरी में कड़ी मेहनत भी करता है, लेकिन नौकरी में कड़ी मेहनत करने के बाद भी वह एक खुशहाल जीवन जीने के लिए पर्याप्त पैसे नहीं कमा पाता है.

लेकिन शेयर बाजार पैसों का एक ऐसा कुआ है जो सारे देश की प्यास बुझा सकता है. जिन लोगों को शेयर बाजार की अच्छी समझ होती है वह शेयर बाजार से करोड़ों रूपये की कमाई करते हैं.

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि Share Market क्या है, शेयर मार्केट कैसे सीखें, शेयर मार्केट में पैसा कैसे लगायें और शेयर मार्केट से पैसा कैसे कमाए तो इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें. इस लेख में हमने आपको इन सब के अतिरिक्त शेयर मार्केट का गणित और शेयर मार्केट से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द शब्दों के बारे में बताया है जिससे कि आपको शेयर बाजार के बारे में अच्छी शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द समझ मिले.

शेयर बाजार में इस्तेमाल किए जाने वाले 23 सबसे महत्वपूर्ण शब्द

भारत में मुख्य रूप से 2 स्टॉक एक्सचेंज हैं: बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)l बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज दलाल स्ट्रीट, मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में स्थित एक भारतीय शेयर बाजार है। सन 1875 में स्थापित, बीएसई एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज हैl बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज, 30 बड़ी कंपनियों के बाजार मूल्य में उतार चढ़ाव की गणना करता हैl ये सभी शब्द बैंकिंग सामान्य ज्ञान के लिए बहुत उपयोगी हैंl

भारत में मुख्य रूप से 2 स्टॉक एक्सचेंज हैं: बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)l बॉम्बे स्टॉक शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द एक्सचेंज दलाल स्ट्रीट, मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में स्थित एक भारतीय शेयर बाजार है। सन 1875 में स्थापित, बीएसई एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज हैl बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ,30 बड़ी कंपनियों शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द के बाजार मूल्य में उतार चढ़ाव की गणना करता हैl दूसरा स्टॉक एक्सचेंज NSE भी मुंबई में है और इसकी स्थापना 1992 में हुई थीl सामान्य लोगों की जानकारी के लिए शेयर बाजार में इस्तेमाल होने वाले मुख्य शब्द इस प्रकार हैं l
1. इक्विटी शेयर (Equity Share): इक्विटी शेयर वे अंश है जिन्हें कंपनी से मताधिकार प्राप्त होता है l ये अंशधारी ही धारित अंशों के अनुपात में ही कंपनी के स्वामित्वधारी होते हैं l इन्हें लाभांश वितरण में कोई वयीयता प्राप्त नही होती है l
2. वरीयता अंश (Preference Share): ये वे शेयर धारक होते हैं जिन्हें लाभांश वितरण में वरीयता दी जाती हैl लाभ बाँटने के बाद यदि कुछ लाभांश बचता है तो उसे इक्विटी शेयर धारकों में बांटा जाता हैl वरीयता अंश के शेयर धारकों को कंपनी में मताधिकार प्राप्त नही होता है l
3. इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO): इसका सम्बन्ध प्राइमरी बाजार से है जिसमे शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द नयी कंपनियों के अंश बाजार में जारी किये जाते हैं l इस विधि के माध्यम से कम्पनियाँ बाजार से पैसा जुटा कर अपनी आगे की वित्तीय योजनाओं को बनाती है l

शेयर मार्केट क्या है सीखें और पैसे कमाए – What Is Share Market In Hindi

Share Market In Hindi: बिना निवेश किए पैसे कमाना थोड़ा मुश्किल है पर शेयर बाजार में निवेश कर पैसे कमाना आसान है.

आज हर कोई व्यक्ति एक खुशहाल जीवन जीने के लिए बहुत पैसे कमाना चाहता है जिसके लिए वह नौकरी में कड़ी मेहनत भी करता है, लेकिन नौकरी में कड़ी मेहनत करने के बाद भी वह एक खुशहाल जीवन जीने के लिए पर्याप्त पैसे नहीं कमा पाता है.

लेकिन शेयर बाजार पैसों का एक ऐसा कुआ है जो सारे देश की प्यास बुझा सकता है. जिन लोगों को शेयर बाजार की अच्छी समझ होती है वह शेयर बाजार से करोड़ों रूपये की कमाई करते शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द हैं.

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि Share Market क्या है, शेयर मार्केट कैसे सीखें, शेयर मार्केट में पैसा कैसे लगायें और शेयर मार्केट से पैसा कैसे शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द कमाए तो इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें. इस लेख में हमने आपको इन सब के अतिरिक्त शेयर मार्केट का गणित और शेयर मार्केट से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण शब्दों के बारे में बताया है जिससे कि आपको शेयर बाजार के बारे में अच्छी समझ मिले.

मंगलवार को बाजार का क्या होगा? राकेश झुनझुनवाला का निधन भारत के लिए बड़ी क्षति

भारत की अर्थव्यवस्था पर बहुत भरोसा करते थे राकेश झुनझुनवाला (फाइल फोटो)

रोहित कुमार ओझा

  • नई दिल्ली,
  • 14 अगस्त 2022,
  • (अपडेटेड 14 अगस्त 2022, 6:21 PM IST)
  • देश के सबसे बड़े निवेशक थे झुनझुनवाला
  • भारत की कहानी में था जबरदस्त भरोसा

देश के निवेशकों को रविवार की सुबह एक खबर ने झकझोर दिया. जब तक सूरज मुंबई के दरिया पर अपनी किरणें फैला पाता, उससे पहले ही दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) के निधन की खबर ने, दलाल स्ट्रीट के शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द निवेशकों को गमगीन कर दिया. राकेश झुनझुनवाला देश के सबसे बड़े निवेशक थे. उनके एक स्टेटमेंट पर मार्केट और दलाल स्ट्रीट में हलचल मचनी शुरू हो जाती थी. निवेशक उनके हर मूव को फॉलो करने की कोशिश में जुटे रहते. शेयर मार्केट खुलते ही निवेशकों की नजरें राकेश झुनझुनवाला के फोर्टफोलियो में शामिल स्टॉक की चाल पर टिक जातीं.

सम्बंधित ख़बरें

जब Jhunjhunwala ने कहा था, 'रिस्क नहीं लेते तो आप कुछ भी नहीं'
राकेश झुनझुनवाला ने 'आजतक' पर बताया था- 1985 से कैसे चुनते आए थे शेयर
झुनझुनवाला क्यों कहते थे ससुर-पिता के पैसे से न करें शेयर बाजार में निवेश
शेयर मार्केट किंग झुनझुनवाला का 62 साल की उम्र में निधन
राकेश झुनझुनवाला: महज 5 हजार से की शुरुआत और ऐसे खड़ा कर दिया था करोड़ों का कारोबार.

सम्बंधित ख़बरें

राकेश झुनझुनवाला का इस दुनिया से चले जाना भारतीय अर्थव्यवस्था और निवेशक समुदाय के लिए अपूर्णिय क्षति है. वो हमेशा से देश की अर्थव्यवस्था को लेकर सकारात्मक रहे. उन्होंने एक बार कहा था कि भारत की अर्थव्यवस्था में इतनी ताकत है कि वो 10 फीसदी का जीडीपी दर हासिल कर सकती है. वो हमेशा भारतीय शेयरों में निवेश करने के पक्षधर थे. शेयर मार्केट कितना भी गिर जाए, वो हमेशा कहते थे कि अगर नुकसान बाजार में हुआ है, तो फायदा भी यहीं होगा. निवेशकों को उतार-चढ़ाव से घबराना नहीं चाहिए.

बाजार को खलेगी कमी

मार्केट एक्सपर्ट और tradeswift के डायरेक्टर संदीप जैन कहते हैं- 'शेयर मार्केट अपने दम पर चलता है. लेकिन राकेश झुनझुनवाला देश के सबसे बड़े निवेशक थे. वो हमेशा से ही मार्केट को लेकर बेहद ही पॉजिटिव रहे. दर्जनों शेयर्स में उन्होंने करोड़ों रुपये निवेश किए हैं. ऐसे में जाहिर है कि राकेश झुनझुनवाला की कमी बाजार को बहुत ही खलेगी'.

क्या है 'बुल मार्केट' और 'बियर मार्केट'? जानिए शेयर बाजार से क्या है इसका संबंध

शेयर मार्केट

यदि आपने हर्षद मेहता के जीवन पर आधारित लोकप्रिय वेब सीरीज देखी है, तो आपको याद होगा कि उसमें 'मंदोड़िया' (बियर) और 'तेजड़िया' (बुल) के बारे में बताया गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि बुल और बियर मार्केट, मार्केट एक्विटी का आधार हैं। ये निवेशकों और व्यापारियों को प्रचलित प्रवृत्ति शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द के अनुसार अपना स्थान लेने में मदद करते हैं।

पर ये क्या हैं? आइए फिनोलॉजी के शेयर मार्केट से जुड़े कुछ शब्द मुक्य कार्यकारी अधिकारी प्रांजल कामरा द्वारा जानते हैं इसके बारे में।

बिजनेस साइकल (व्यापार चक्र) को समझना
कोई भी बाजार कुछ आर्थिक सिद्धांतों के आधार पर बढ़ता है। इस संदर्भ में सबसे महत्वपूर्ण सिद्धांतों में से एक 'व्यापार चक्र' है, जिसे इकोनॉमिक साइकल या ट्रेड साइकल के रूप में भी जाना जाता है। ये चक्र लहर की तरह के पैटर्न हैं जो दीर्घकालिक विकास की प्रवृत्ति पर बनते हैं। जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि बाजार के आगे बढ़ने के साथ-साथ उनमें एक उछाल और गिरावट (मंदी) आती है। संक्षेप में, एक व्यापार चक्र की लंबाई एक उछाल और मंदी से लिया गया समय है।

रेटिंग: 4.90
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 338